राहत पैकेज की पांचवीं किस्त का एलान, मनरेगा के लिए 40 हजार करोड़ रुपये अतिरिक्त

नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज 20 लाख करोड़ रुपए के कोविड-19 राहत पैकेज का पांचवीं और आखिरी किस्त का एलान किया ।उन्होंने कहा कि आज रिफॉर्म्स पर फोकस रहेगा और 7 ऐलान किए हैं एलान ये मनरेगा, स्वास्थ्य, शिक्षा, कारोबार, कंपनीज एक्ट, ईज ऑफ डूइंग बिजनेस और पीएसयू से जुड़े हैं। आत्म निर्भर भारत अभियान की 5 वीं किस्त में मनरेगा के लिए 40 हजार करोड़ रुपये अतिरिक्त दिये जाएंगे बजट में 61 हजार करोड़ रुपये सरकार पहले ही दे चुकी है।

अंतिम किस्त की बड़ी घोषणा

  • मनरेगा के लिए अतिरिक्त 40000 करोड़ रुपये का आवंटन, ताकि घर लौटे प्रवासी मजदूरों को काम मिल सके।
  • कोरोना से लड़ने के लिए स्वास्थ्य क्षेत्र को 15,000 करोड़ रुपये का आवंटन होगा।
  • कोविड-19 के कारण अगर कोई क़र्ज़ चुकाने में नाकाम रहा तो उसे डिफॉल्ट की श्रेणी में नहीं रखा जाएगा।
  • कुर्की या दिवालिएपन की प्रक्रिया के लिए न्यूनतम सीमा एक लाख रुपये से बढ़ाकर एक करोड़ रुपये की गई।
  • एक साल तक दिवालिएपन की कार्रवाई पर रोक।
  • कोविड-19 के कारण अगर कोई क़र्ज़ चुकाने में नाकाम रहा तो उसे डिफॉल्ट की श्रेणी में नहीं रखा जाएगा।
  • सरकार स्वास्थ्य के क्षेत्र में ख़र्च बढ़ाएगी, ज़मीनी स्तर की स्वास्थ्य संस्थाओं में निवेश किया जाएगा।
  • भविष्य में किसी भी तरह की महामारी को रोकने के लिए सभी ज़िलों में अस्पतालों में संक्रामक रोग ब्लॉक बनाए जाएंगे।
  • लैब नेटवर्क को मज़बूत किया जाएगा. शोध को बढ़ावा दिया जाएगा नेशनल इंस्टीच्यूशनल प्लेटफ़ॉर्म बनाया जाएगा।
  • टेस्टिंग और लैब किट के लिए 550 करोड़ का फंड।
  • लैब नेटवर्क को मज़बूत किया जाएगा. शोध को बढ़ावा दिया जाएगा नेशनल इंस्टीच्यूशनल प्लेटफ़ॉर्म बनाया जाएगा।
  • पीएम-ई विद्या कार्यक्रम चलाया जाएगा ताकि डिजिटल/ऑनलाइन पाठ्यक्रम की पहुँच बढ़ाई जा सके।
  • हर क्लास के लिए एक चैनल शुरू किया जाएगा।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s