चाइनीज ऐप TikTok को भारत में बैन करने की मांग ने पकड़ा तूल, महिला विरोधी पोस्ट पर NCW ने भी केंद्र सरकार से कार्रवाई करने को कहा

नई दिल्ली। फूहड़, अश्लील, हिंदू विरोधी और बेहद आपत्तिजनक पोस्ट को वायरल करने का जरिया बन चुके चाइनीज एप  TikTok   को बैन करने की मांग एक बार फिर से जोर शोर से उठने लगी है। सोशल मीडिया पर #BanTikToklnlndia लगातार ट्रेंड कर रहा है। एसिड अटैक पीड़िता लक्ष्मी अग्रवाल ने भी टिक टोक को बैन करने की मांग की है। वहीं राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने भी एक के बाद एक महिला हिंसा को बढ़ावा देने वाले वीडियो वायरल होने पर TikTok पर कार्रवाई करने के लिये केन्द्र सरकार को लिखा है।

https://platform.twitter.com/widgets.js

TikTok App को बैन करने की मांग ने दोबारा तब जोर पकड़ा है जब एक के बाद एक महिला विरोधी वीडियो इस प्लेटफार्म से वायरल किये गये । पहले वीडियो को फैजल सिद्दीकी ने पोस्ट किया था जबकि दूसरे वीडियो को मुजीबुर रहमान नाम के टिक टोकर ने अपलोड किया था। फैजल सिद्दकी ने महिलाओं पर एसिड अटैक को बढ़ावा देनेवाला एक वीडियो पोस्ट किया। हालांकि इस वीडियो को लेकर फैजल सिद्दीकी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

https://platform.twitter.com/widgets.js

वहीं दूसरे टिक टोकर मुजीबुर रहमान ने भी इस तर का एक वीडियो क्रिएट किया है जिसमें कि गैंगरेप का महिमा मंडन किया गया है।

https://platform.twitter.com/widgets.js

एसिड अटैक पीड़िता लक्ष्मी अग्रवाल ने फैजल सिद्दकी के वीडियो पर सख्त आपत्ति जताते हुए कहा कि वो इस वीडियो से इतना दुखी हैं कि वो अब खुद को टिक टोक क्रिएटर नहीं कहलाना चाहती हैं।

https://platform.twitter.com/widgets.js

इसी तरह से ट्विटर यूजर पायल रोहतगी ने TikTok App  का एक वीडियो पोस्ट कर पूछा है कि ‘आप अपने बच्चों से क्या चाहते हैं ‘। इस वीडियो में  टिक टोकर मुजीबुर रहमान और उसके साथियों ने एक तरह से गैंगरेप का महिमा मंडन किया है।

https://platform.twitter.com/widgets.js

इसी तरह एकक अन्य ट्विटर यूजर सौरव भंसोडे का कहना है कि TikTok App  को बैन कर देना चाहिए क्योंकि ये हिंसा, महिलाओं के प्रति अपराध और एसिड अटैक को बढ़ावा दे रहा है।

https://platform.twitter.com/widgets.js

इसी तरह एक अन्य यूजर पूजा विश्नोई ने TikTok App  को बैन करने की मुहिम का समर्थन किया है।

https://platform.twitter.com/widgets.js

वहीं एक अन्य यूजर आदित्य आदित्य बी व्यास ने भी टिक टोक TikTok App  को बैन करने की मुहिम का समर्थन किया है।

https://platform.twitter.com/widgets.js

वहीं कई लोग सोशल मीडिया पर TikTok App  की लगातार कम होती रेटिंग का जश्न मना रहे हैं। 16 मई को जहां टिक टोक की रेटिंग 4.5  थी वहीं 19 मई आते आते भारत में टिक टोक की रेटिंग 2.0 स्टार रह गयी है । गूगल प्ले स्टोर के मुताबिक,  TikTok App  को अबतक करीब 24 मिलियन यूजर्स रेटिंग दे चुके हैं, इनमें से काफी यूजर्स ने इस एप को सिर्फ एक रेटिंग दी है, जिससे एप की रेटिंग में भारी गिरावट दर्ज की गई है और रेटिंग सिर्फ दो हो गई है।

https://platform.twitter.com/widgets.js

https://platform.twitter.com/widgets.js

TikTok  को मद्रास हाईकोर्ट कर चुका है बैन

आपको बता दें कि TikTok App  आतंकवाद समर्थक वीडियो, और यहां तक कि चइल्ड पोर्न वीडियो तक का अड्डा बन गया है। सबसे चिंता की बात तो यह है कि यह एप बच्चों और किशोरों के बीच बहुत लोकप्रिय है और इस एप पर कंटैंट की क्वालिटी बेहद घटिया है। बेहद आपत्तिजनक सामग्री को बच्चे आसानी से एक्सेस कर सकते हैं जो कि उनके लिए बेहद नुकसानदायक हैं। मद्रास हाई कोर्ट ने इस एप को भारत में कुछ समय के लिए प्रतिबंधित भी कर दिया था। हालांकि, जब इस एप ने लिखित में कोर्ट को यह विश्वास दिया कि वह अपने प्लेटफॉर्म पर नियंत्रण को और मजबूत करेगा, तो मद्रास हाई कोर्ट ने इस प्रतिबंध को हटा दिया था।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s