डोकलाम के बाद अब लद्दाख में भी चीन को माकूल जवाब देने की तैयारी में भारत, सीमा पर जारी रहेगा सड़क और दूसरे निर्माण कार्य

लद्दाख के गैलावन घाटी में पिछले कई दिनों से भारत- चीन के सैनिक आमने-सामने हैं । एक तरफ जहां चीन वास्तविक नियंयत्रण रेखा पर भारी सैनिक जमावड़ा कर रहा है तो वहीं भारत पीछे हटने के मूड में नहीं हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भारत सरकार ने तय किया है बॉर्डर पर सड़क और दूसरा निर्माण-कार्य किसी भी सूरत में काम नहीं रूकेगा। चीन ने पैंगोंग झील के पास टेंट लगाए तो भारत ने भी खूंटा गाड़ दिया है।सेना ने बड़ी तेजी से सैनिकों और जरूरी संसाधन को अग्रिम ठिकानों पर पहुंचाना शुरू कर दिया ।

आपको बता दें कि गैलवान घाटी में जहां चीन और भारत के सैनिक आमने-सामने हैं वो दरअसल, उस सामरिक महत्व की सड़क के कारण हैं जो लद्दाख के दुरबुक (डुरबुक) से श्योक होते हुए दौलत बेग ओल्डी तक के लिए है। दौलत बेग ओल्डीर में एंडवास्डड लैंडिंग ग्राउंड (ALG) है जो दुनिया की सबसे ऊंची एयरस्ट्रिप है। यहां इंडिया C-130 ग्लो बमास्टंर एयरक्राफ्ट उतार सकता है। यानी भारत के लिए यह रणनीतिक रूप से बेहद अहम है।ये सड़क करीब 255 किलोमीटर लंबी है जिसका उदघाटन रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पिछले साल अक्टूबर में किया था।

गलवां घाटी में चीन आक्रामक इसलिए है क्यों कि उसके पास भारत के कई डिफेंस रिलेटेड प्रोजेक्ट्स हैं। धारचुक से श्योंक होते हुए दौलत बेग ओल्डीक के लिए रोड बनी है। ये रोड भारत को काराकोरम हाइवे का भी एक्सेकस देती है जिसपर चीन को दिक्कतत है।

चीन को इस बात पर आपत्ति है कि भारत सरकार लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर सड़कों का जाल बिछाने के साथ ही दूसरी मूलभूत सुविधाएं जुटा रहा है।
यहां पर लेकिन ये बात गौर करने लायक है कि जहां चीन भारत के निर्माण कार्यों पर आंखें तरेर रहा है वहीं चीन ने अपने क्षेत्र में फोर-लेन हाईवे बना रखे हैं। चीन का वेस्टर्न-हाईवे गैलवानी घाटी के बेहद करीब अक्साई-चिन से होकर गुजरता है।
गौरतलब है कि 2017 में डोकलाम में भारत और चीन के बीच 73 दिनों तक गतिरोध रहा और दोनों परमाणु हथियार संपन्न पड़ोसियों के बीच युद्ध की आशंका पैदा हो गई थी। भारत और चीन के बीच 3,488 किलोमीटर लंबी वास्तविक नियंत्रण रेखा को लेकर विवाद है और चीन अरुणाचल प्रदेश को दक्षिण तिब्बत का हिस्सा बताता है जबकि भारत का स्पष्ट रुख है कि यह देश का अभिन्न हिस्सा है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s