चीन की कंपनी पर मेरठ में मुकदमा दर्ज, भारत में साढ़े 13 हजार मोबाइल में चल रहा एक ही IMEI नंबर

नई दिल्ली। देश में चीन के विरुद्ध चल रहे बहिष्कार के बीच चीनी मोबाईल कंपनी वीवो की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है। यहां साढ़े 13 हजार मोबाइलों में एक ही IMEI नंबर चलने का मामला सामने आय़ा है। मेरठ जोन पुलिस की साइबर क्राइम सेल की जांच में इस बात का खुलासा हुआ है।

लाइव हिंदुस्तान पर छपी खबर के मुताबिक, अपर पुलिस महानिदेशक मेरठ के कार्यालय में तैनात सब इंस्पेक्टर आशाराम ने अपने वीवो कंपनी के मोबाइल की स्क्रीन टूटने पर  इसको बदलने के लिए 24 सितंबर 2019 को मेरठ में दिल्ली रोड के वीवो के सर्विस सेंटर पर दिया था। सर्विस सेंटर ने फोन की बैट्री, स्क्रीन और एफएम बदलकर उन्हेंं मोबाइल वापस दे दिया। लेकिन कुछ दिन बाद ही मोबाइल में डिस्प्ले पर एरर आना शुरू हो गया।

मामले की शिकायत होने पर तत्कालीन एडीजी प्रशांत कुमार ने मेरठ जोन पुलिस की साइबर क्राइम सेल प्रभारी प्रबल कुमार पंकज व साइबर एक्सपर्ट विजय कुमार को जांच का निर्देश दिया। जांच करने पर पता चला कि आशाराम के मोबाइल के बॉक्स पर जो IMEI लिखा हुआ है, वह वर्तमान में मोबाइल में मौजूद IMEI से अलग है। इसके बाद जब 16 जनवरी 2020 को सर्विस सेंटर मैनेजर ने बोला कि IMEI नहीं बदली गई। चूंकि उस मोबाइल में जिओ कंपनी का सिम था इसलिए साइबर सेल ने उस IMEI को टेलिकॉम कंपनी को भेजकर डाटा मांगा।

वहां से रिपोर्ट आई कि 24 सितंबर 2019 को सुबह 11 से 11.30 बजे तक अलग-अलग राज्यों के वीवो मोबाइल के इसी IMEI नम्बर पर 13557 फोन चल रहे हैं।

साइबर सेल ने माना है कि इस मामले में मोबाइल कंपनी की घोर लापरवाही और ट्राई के नियमों का उल्लंघन हुआ  है। राजीव सबरवाल, एडीजी मेरठ जोन ने बताया, एक शिकायत पर इस केस में जांच हुई। पता चला कि एक IMEI कई हजार मोबाइलों में चल रहा है। यह नियमों का उल्लंघन है। सुरक्षा के लिहाज से भी खतरा है। यदि उस IMEI वाले मोबाइल से कोई अपराध हुआ तो हम अपराधी को पकड़ भी नहीं पाएंगे। मामले में मुकदमा दर्ज कराया गया है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s